दिल्ली देहात से….

हरीश चौधरी के साथ….

“हमसे सलाह नहीं ली गई”: कुश्ती संघ से जुड़े विवाद में पहलवानों का आरोप NDTV हिंदी NDTV India – हमसे राय नहीं ली : कुश्ती संघ से जुड़े विवाद में सरकार की ओर से निश्चय समिति को लेकर पहलवानों का आरोप -दिल्ली देहात से

डब्ल्यूएफआई प्रमुख को हटाने की मांग को लेकर देश के कई नामी पहलवान जंतर-मंतर पर धरने पर बैठे थे

नई दिल्ली :

भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ यौन उत्पीड़न और डरने-धमकाने का आरोप लगाने वाले पहलवानों ने यह दावा किया है कि इस खेल की जाली के खिलाफ आरोप लगाने पर धोखाधड़ी की जांच के लिए निगरानी समिति बनाने से पहले सरकार ने कहा उनकी सलाह मशविरा नहीं की। खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने सोमवार को मुक्केबाज एमसी मैरीकॉम की अध्यक्षता में निगरानी समिति के पांच सदस्यों के गठन की घोषणा की। यह समिति डब्ल्यूएफआई अध्यक्ष के खिलाफ भ्रष्टाचार की जांच करने के अलावा भारतीय कुश्ती महासंघ के रोज के काम को भी देखेगी। समिति के अन्य सदस्य ओलंपिक पदक विजेता पहलवान योगेश्वर दत्त, पूर्व निर्वासित खिलाड़ी और मिशन ओलंपिक सेल के सदस्य तृप्ति मुरगुंडे, टॉप्स के पूर्व सीईओ राजगोपालन और भारतीय खेल प्राधिकरण (साईं) के पूर्व कार्यकारी निदेशक (टीम) राधिका श्रीमन शामिल हैं।

यह भी पढ़ें

डब्ल्यूएफआई लेकर को हटाने की मांग को जंतर-मंतर पर तीन दिन तक धरने पर बैठने वाले पहलवानों में शामिल बजरंग पूनिया, विनेश फोगाट, सरिता मोर और गवाह मलिक ने इसी तरह का ट्वीट कर अपनी शिकायत दर्ज कराई है। इन पहलवानों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और ठाकुर को टैग करके ट्वीट किया है,” क्षति ने हमें दिया था कि निगरानी समिति का गठन करने से पहले हमसे सलाह ली जाएगी। यह वास्तव में दुखद है कि हमने मशविरा से सलाह नहीं ली थी।” इन पहलवानों ने बृजभूषण शरण के खिलाफ तानाशाही रवैया अपनाने और छोटे पहलवानों के यौन उत्पीड़न करने के आरोप लगाए थे। बृजभूषण शरण बीजेपी के सांसद भी हैं। जिम्मेदार लोगों ने उन खिलाड़ियों के नामों को उजागर नहीं किया था, कथित तौर पर यौन उत्प्रेरण किया गया था।

(इस खबर को एंडीटीवी टीम ने नाराज नहीं किया है। यह सिंडीकेट से सीधे प्रकाशित किया गया है।)

दिन का विशेष रुप से प्रदर्शित वीडियो

किरेन रिजिजू ने कहा- जजों की नियुक्ति को लेकर रिपोर्ट को जगजाहिर करना सही नहीं है