दिल्ली देहात से….

हरीश चौधरी के साथ….

मध्य प्रदेश वन विभाग की टीम पर ग्रामीणों का हमला, तीन वनकर्मी घायल – मध्य प्रदेश वन विभाग की टीम को समझ समझकर किया हमला, तीन वनकर्मी घायल -दिल्ली देहात से

मध्य प्रदेश वन विभाग की टीम पर ग्रामीणों का हमला, तीन वनकर्मी घायल – मध्य प्रदेश वन विभाग की टीम को समझ समझकर किया हमला, तीन वनकर्मी घायल
-दिल्ली देहात से

[ad_1]

सांकेतिक तस्वीर

शिवपुरी: मध्य प्रदेश के श्योपुर जिले में स्थित कूनो नेशनल पार्क (केएनपी) से निकलकर बाहर गई एक मां चीते की मांग कर रही वन विभाग की टीम को फंसाने की साजिश में समझ लिया और शुक्रवार को उस पर हमला कर दिया, जिसमें तीन वनकर्मी घायल हो गए हो गया। यह जानकारी अधिकारियों ने दी।

यह भी पढ़ें

अधिकारियों ने बताया कि यह घटना केएनपी से सटे शिवपुरी जिले के पोहरी थानाक्षेत्र के बुढाखेड़ा गांव के पास करीब चार बजे पहुंची। वनमंडल के अधिकारी (डीएफओ) प्रकाश वर्मा ने बताया कि पिछले साल सितंबर में नामीबिया से केएनपी में माँ चीता आशा कुछ दिनों से केएनपी क्षेत्र से बाहर घूम रही है। लगातार निगरानी के लिए एक टीम 24 घंटे में पता लगाने में लगी है।

उन्होंने कहा कि बृहस्पतिवार-शुक्रवार की दरम्यानी रात पोहरी थानाक्षेत्र के बुढाखेड़ा गांव में इस टीम को इसकी स्थिति का पता चला और वह वहां पहुंची। वर्मा ने बताया कि करीब चार टीम के सदस्यों को फंसाने के लिए जिम्मेदारों ने धोखाधड़ी को समझ लिया, उन्हें मारने के लिए बंदूक से हवा में गोलियां चलायीं। उन्होंने बताया कि शूटिंग के बाद भी टीम के सदस्य भाग नहीं लेते हैं तो नामांकन करते हुए चारों ओर से उन पर हमला कर देते हैं। उन्होंने बताया कि इस हमले में तीन कर्मचारी घायल हो गए हैं और इस हमले में शासकीय वाहन को भी नुकसान पहुंचा है। उन्होंने कहा कि इसकी शिकायत पोहरी पुलिस थाने में दर्ज की गई है।

वहीं, पोहरी थाना प्रभार अरविंद सिंह ने बताया, ”चीता का पीछा करने के दौरान गांव बुढाखेड़ा में आई वन विभाग की टीम पर स्थिति द्वारा पथराव किया जाने और शासकीय वाहन तोड़े जाने की शिकायत आई है। मामले में कार्रवाई की जा रही है और मजदूरों को पकड़ने के प्रयास जारी हैं।”

ये भी पढ़ें:-

नए संसद भवन का उद्घाटन पर मोदी सरकार ने ‘सेंगोल’ के दांव क्यों लगाए? पढ़िए इनसाइड स्टोरी

ऐतिहासिक ‘सेंगोल’ अब संसद के शोभा में दिखता है, NDTV से बोले निर्माता- बहुत गर्व महसूस कर रहे हैं…

संगोल क्या है? जिसे 28 मई को नई संसद भवन में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी स्थापित करेंगे

[ad_2]