दिल्ली देहात से….

हरीश चौधरी के साथ….

पीएम मोदी की विदेश यात्राओं ने भारत के वैश्विक कद और विश्वसनीयता को और बढ़ाया: बीजेपी – पीएम मोदी के दौरे से भारत के वैश्विक कद व साख में और अब हुआ: बीजेपी -दिल्ली देहात से

पीएम मोदी की विदेश यात्राओं ने भारत के वैश्विक कद और विश्वसनीयता को और बढ़ाया: बीजेपी – पीएम मोदी के दौरे से भारत के वैश्विक कद व साख में और अब हुआ: बीजेपी
-दिल्ली देहात से

[ad_1]

भाजपा के वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद ने यहां संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री की विदेश यात्रा को सफल बताया और कहा कि ऐसे कई उदाहरण हैं जो संकेत देते हैं कि तीन देशों की यात्रा के साथ ‘भारत का कद और बढ़ गया’ है। उन्होंने कहा, ”यह हर भारतीय और चाहकर भी पार्टी के लिए गर्व की बात है।”

प्रसाद ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत दुनिया में ‘नई सीख’ हो रही है। उन्होंने कहा, ”इसका संकेत तब मिला जब अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने हिरोशिमा में जी-7 की बैठक में कहा कि कैसे प्रधानमंत्री मोदी के लिए आयोजित होने वाले राजकीय रात्रिभोज में साझेदारी की संख्या में इसके लिए विकल्प टिकटों से अधिक है।’ ‘

समाचार पत्रों में आई खबरों का हवाला देते हुए भाजपा नेता ने कहा कि कुछ अमेरिकी कांग्रेस सदस्यों ने प्रधानमंत्री मोदी से अमेरिकी कांग्रेस के संयुक्त सत्र को संदेश देने का अनुरोध किया है। प्रसाद ने कहा, ”इस बारे में वक्ता निर्णय लेंगे।” उन्होंने कहा, ”ये सभी संकेत हैं कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत दुनिया में एक बहुत ही मजूबत शक्ति के रूप में उभर रहा है।”

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मोदी के नेतृत्व में भारत को दुनिया के शीर्ष नेताओं से सम्मान मिल रहा है और वह प्रौद्योगिकी, निर्माण और स्टार्ट-अप से लेकर रक्षा क्षेत्र में पहुंचकर कई क्षेत्रों में अपनी उपलब्धियां हासिल कर रहा है। उन्होंने कहा, ”भारत, जो दुनिया की पांचवीं (सबसे बड़ी) इंडस्ट्री है, टैलेंट और टेक्नोलॉजी का पावरहाउस है। भारत व्यापार, इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफैक्चरिंग, मोबाइल मैन्युफैक्चरिंग, रिलिजियस मूवमेंट और डिफेंस रिफ्लेक्स एक बड़े केंद्र के रूप में उभर रहा है। भारत इन सभी क्षेत्रों में दुनिया को उपलब्धियां दिखा रहा है।”

प्रसाद ने जोर देकर कहा कि सबसे बड़ी बात ये है कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत को एक ऐसे देश के रूप में देखा जाता है जो सभी की परवाह करता है। उन्होंने कहा, ”कोविड-19 महामारी के दौरान जब 100 से अधिक देशों को भारत में टीका भेजा गया तो दुनिया ने भारत को सबका ख्याल रखने वाले एक राष्ट्र के रूप में और प्रधानमंत्री मोदी को सबका ख्याल रखने वाले नेता के रूप में देखा ”

प्रधान मंत्री जी-7 शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए जापान के हिरोशिमा गए थे। इसके बाद उन्होंने पैसिफिक द्वीप राष्ट्र की अपनी पहली यात्रा पापुआ न्यू गिनी की यात्रा की। यह किसी भी भारतीय प्रधानमंत्री की देश की पहली यात्रा भी थी। इसके बाद मोदी ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीज के निमंत्रण पर सिडनी चले गए।

मोदी ने कहा, ” मैं जागरण नेताओं से मिलने की और जिन दौड़ से मैं बात की, वे भारत द्वारा जी-20 की अध्यक्षता इतने उत्कृष्ट तरीके से किए जाने से मंत्रमुग्ध हैं और इसकी सराहना कर रहे हैं। यह सभी भारतीयों के लिए बहुत गर्व की बात है।” उन्होंने यह भी कहा कि इस दौरे के दौरान उन्होंने देश की योग्यता के लिए हर उपलब्ध समय का सर्वोत्तम संभव संभव तरीके से उपयोग किया।

ये भी पढ़ें:-

सीएम ममता ने अरविंद केजरीवाल के खिलाफ फोकस की लड़ाई में शेयरिंग को नुकसान पहुंचाया

क्रिएटर से मिले अरविंद केजरीवाल, रेटिंग के खिलाफ ‘आप’ की लड़ाई में मांगा

[ad_2]