दिल्ली देहात से….

हरीश चौधरी के साथ….

एनसीआरटीसी आनंद विहार रैपिडएक्स स्टेशन पर पैदल यात्री पुल का निर्माण करेगा – एनसीआरटीसी आनंद विहार रैपिडएक्स स्टेशन पर पैदल यात्रियों के लिए पुल का निर्माण होगा -दिल्ली देहात से

एनसीआरटीसी आनंद विहार रैपिडएक्स स्टेशन पर पैदल यात्री पुल का निर्माण करेगा – एनसीआरटीसी आनंद विहार रैपिडएक्स स्टेशन पर पैदल यात्रियों के लिए पुल का निर्माण होगा
-दिल्ली देहात से

[ad_1]

सांकेतिक तस्वीर

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र परिवहन निगम (एनसीआरटीसी) दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ टीआरजेड कारोबार के मनोरंजक रैपिडएक्स स्टेशन पर पैदल यात्रियों के लिए एक पुल का निर्माण होगा। अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को कहा कि महत्वपूर्ण प्रवेश करने और निकासी के लिए भी अलग से दो पुल बनाए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें

उन्होंने बताया कि आनंद विहार एक्स स्टेशन और चौधरी चरण सिंह मार्ग के बीच से गुजरने वाले गाजीपुर नाले पर एनसीआरटीसी द्वारा पुलों का निर्माण किया जा रहा है। अधिकारियों ने बताया कि तीन पुलों से दहिनी ओर के पुल का उपयोग आनंद विहार रैपिड एक्स स्टेशन पर महत्वपूर्ण प्रवेश के लिए किया जाएगा, जबकि बाईं ओर के पुल का उपयोग करते हुए निकासी की निकासी के लिए किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि बीच वाले पुल का उपयोग पैदल चलने वाले स्टेशन परिसर में आने-जाने के लिए कर सकते हैं। एनसीआरटीसी के अधिकारियों ने बताया कि आनंद विहार रैपिड एक्स स्टेशन में काफी हद तक प्रवेश के लिए बन रहा पुल करीब 10 मीटर घिरा हुआ है। उन्होंने कहा, ”टैक्सी और निजी वाहन इस पुल से प्रवेश कर सकते हैं और यात्रियों को स्टेशन के द्वार पर बदल सकते हैं।”

अधिकारियों ने कहा कि महत्वपूर्ण निकासी का पुल 13 मीटर का घेरा होगा, जबकि पैदल यात्रियों के लिए पुल का पांच मीटर का घेरा होगा। एनसीआरटीसी के अधिकारियों ने यह भी कहा कि उनका लक्ष्य 2025 तक पूरे 82 किलोमीटर लंबा दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ को चालू करना है। इससे पहले, एनसीआरटीसी 2023 में हाइलाइट के 17 किलोमीटर लंबी प्राथमिकता वाले वॉल्यूम पर सेवा शुरू करेंगे।

ये भी पढ़ें :-

(इस खबर को एंडीटीवी टीम ने नाराज नहीं किया है। यह सिंडीकेट से सीधे प्रकाशित किया गया है।)

[ad_2]