दिल्ली देहात से….

हरीश चौधरी के साथ….

इंटरव्यू कुणाल खेमू ने कहा, मुझे अभिनय शैली पसंद है – मुझे अभिनय करना पसंद है जॉनर कोई भी हो -दिल्ली देहात से


उत्तर – कुणाल खेमू – सिंपल कॉमेडी है। पूरे परिवार के साथ देखिये पर्याप्त, उस तरह की कॉमेडी है। इसी बीच नूपुर ने यह भी बताया कि बकियों से तो अलग है क्योंकि ये पहला कॉमेडी वेब शो है। तो मुझे नहीं लगता कि किसी और कॉमेडी शो को कंपीट करें।

2. आपके टेलीकॉम में एक डायलॉग है मेरा बाप जो अक्सर दिल्ली में सुनने को मिलता है। तो क्या आपने कभी ये डायलॉग रियल लाइफ में कभी इस्तेमाल किया है।

उत्तर – कुणाल खेमू नूपुर की टांग दिखाते हुए कह रहे हैं कि नूपुर स्टूडियो बोलती थी दिल्ली में कि आप जानते हैं मेरा बाप कौन है? तो इसी से इंस्पायर होके फरहाद ने ये शो लिखा है। लेकिन उसने सिर्फ लड़की का लड़का कर दिया। लेकिन मैं तो बहुत सिंपल सा लड़का हूं। मैं तो ऐसे झगड़ों में नहीं हूं। मैंने इसका उपयोग नहीं किया। (नुपुर मुस्कुराते हैं और कहते हैं इसकी बात को सीरियस मत सहयोग करें)

3. नूपुर के लिए सवाल- सिंगिंग के बाद आप कॉमेडी किस तरह काम करेंगे। यहां पर भी कॉमेडी सिंगिंग का छौंक दिखता है

उत्तर – सिंगिंग का तो इस सीरीज में कोई स्कोप नहीं था, लेकिन मुझे उम्मीद है कि कॉमेडी का क्रैका आपको देखने को मिलेगा। मुझे उम्मीद है कि मेरी कॉमेडी से हंसा पाऊं लोगों को, मैंने पूरी कोशिश की है। मेरे साथ मेरे सभी को एक्टर्स ने काफी मदद की है, कुणाल को मिलाकर। इसी बीच कुनाल बोलते हैं मजाकिया लहज़े में कि मैं सुबह उठकर रियाज़ करवाता था। और राग गंधर्व में जो ये गाती हैं वो तो चमत्कार है। इस पर नूपुर ने कहा कि मैं सभी से कुछ न कुछ खुश हूं लेकिन मुझसे कुछ सीखने में किसी की दिलचस्पी नहीं थी।

4. आप कॉमेडी और डार्क रोल दोनों कर चुके हैं तो आपके लिए कौन सा रोल करना आसान है या आप ऐसा रोल वापस करना पसंद करेंगे।

उत्तर – लोग वैसे तो कॉमेडी ज्यादा पसंद करते हैं लेकिन कुछ खास अभिनेता अभिनय करना पसंद करते हैं। लेकिन इसमें कोई दोराय नहीं है कि कॉमेडी इस दुनिया का सबसे जॉनर है, मैं खुद भी कभी-कभी देखता हूं तो कॉमेडी देखना पसंद करता हूं। मैं प्रत्यक्ष कॉमेडी का आनंद लेता हूं। ईमानदारी से कहूं तो मुझे अभिनय करना पसंद है। जॉनर कोई भी हो चाहे।

5. इस फिल्म में आप अभिनेता सतीश कौशिक के साथ काम कर रहे हैं, सच में हाल ही में निधन हो गया है। तो आप उनके साथ काम करने के संबंध में कुछ कहना चाहेंगे.

उत्तर – बहुत अच्छे प्रयोग कर रहे हैं और मैं उन्हें बचपन से जनता हूँ। लेकिन बहुत कम मिलने वाली थी। साथ की इस शो को करने की सबसे बड़ी हाईलाइट मेरे लिए रही कि मुझे उनकी जैसी पर्सनेलिटी के साथ काम करने का मौका मिला और उनकी याददाश्त तो अभी की हाल ही में मिलने के शो के दौरान ही है। ऑन स्क्रीन तो उन्होंने साथ ही काम किया लेकिन ऑफ स्क्रीन जो वो हंसाते थे वो कमाल था। ये नहीं की सिर्फ फनी कहानियां होती थीं लेकिन वो सिनेमा और सिनेमा देखने वालों से बहुत प्यार करते थे और वो दिखते थे।

6. आपकी अपकमिंग प्रॉजेक्ट्स को लेकर आपके क्या प्लान हैं।

उत्तर – कुणाल खेमू – इस बार तो पॉपकॉर्न की ही बात होगी और पॉपकॉर्न के बाद अगले हफ्ते मेरी फिल्म आ रही है कंजूस ड्रेक चूस, उस पर भी 2 या 3 दिन बाद बात करेंगे।