दिल्ली देहात से….

हरीश चौधरी के साथ….

ईपीएफ ब्याज दर 2023 नवीनतम अपडेट ईपीएफओ ने 2022-23 के लिए कर्मचारी भविष्य निधि पर 8.15% ब्याज दर तय की -दिल्ली देहात से

ईपीएफ ब्याज दर 2023 नवीनतम अपडेट ईपीएफओ ने 2022-23 के लिए कर्मचारी भविष्य निधि पर 8.15% ब्याज दर तय की
-दिल्ली देहात से

[ad_1]

ईपीएफ ब्याज दर 2023 नवीनतम अपडेट: ईपीएफओ ने अधिक पेंशन पाने के लिए अपने सब्सक्राइबर्स को आवेदन करने के लिए तीन मई, 2023 तक की डेडलाइन दी है।

नई दिल्ली:

EPF ब्याज दर 2022-23: कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (कर्मचारी भविष्य निधि संगठन) यानी ईपीएफओ (EFFO) ने 2022-23 के लिए कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) पर ब्याज दर बढ़ा दी है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, अब कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) पर ब्याज दर को बढ़ाकर 8.15 प्रतिशत कर दिया गया है। कल यानी सोमवार को कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (कर्मचारी भविष्य निधि संगठन) यानी ईपीएफओ (EFFO) की दो दिवसीय बैठक हुई, जो आज मंगलवार को खत्म हो गई. अपने दो दिन की बैठक में ईपीएफओ (ईपीएफओ) ने अपने सब्सक्राइबर्स के लिए 2022-23 कर्मचारियों के भविष्य निधि (ईपीएफ) पर ब्याज दर के बारे में घोषणा की है।

यह भी पढ़ें

ईपीएफओ (ईपीएफओ) मार्च, 2022 में 2021-22 के लिए अपने करीब पांच करोड़ सब्सक्राइबर के ईपीएफ ((कर्मचारी भविष्य निधि) पर ब्याज दर (ब्याज दर) को घटाकर चार दशक से भी अधिक समय के निचले स्तर 8.1 वर्ष पर लाया गया था। यह दर 1977-78 के बाद से सबसे कम थी, तब ईपीएफ पर ब्याज दर (पीएफ ब्याज दर) आठ प्रतिशत हुई थी। 2020-21 में यह दर 8.5 प्रतिशत थी।

आपको बता दें कि मार्च, 2020 में ईपीएफओ ने भविष्य निधि सागर पर वेग दर को कम करके सात महीने के निचले स्तर 8.5 प्रतिशत पर ला दिया था। 2018-19 के लिए यह 8.65 प्रतिशत था।

पिछले दिन एक सूत्र ने कहा, ”कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के निर्णय लेने वाले शीर्ष निकाय केंद्रीय न्यासी बोर्ड (सीबीटी) द्वारा 2022-23 के लिए ई प्राथमिकता पर लक्ष्य दर (ईपीएफ ब्याज दर 2022-23) के बारे में निर्णय सोमवार रात से शुरू हो रही दो दिन की बैठक में लिया जा सकता है।” इसके अलावा केद्रीय कर्मचारियों को ज्यादा पेंशन पेंशन (उच्च पेंशन विकल्प) की खातिर आवेदन देने के लिए सुप्रीम कोर्ट (सुप्रीम कोर्ट) ने चार महीने का समय देने वाला जो आदेश दिया उस पर ईपीएफओ ने क्या कार्रवाई की है, इस बारे में बैठक में भी चर्चा हो सकती है।

ईपीएफओ ने ज्यादा पेंशन पाने के लिए अपने सब्सक्राइबर्स को आवेदन देने के लिए तीन मई, 2023 तक की डेडलाइन (ईपीएफओ हायर पेंशन ईपीएस डेडलाइन) दी है। ईपीएफओ हायर पेंशन (ईपीएफओ हायर पेंशन स्कीम 2023) का विकल्प प्रमाण के बाद ईपीएफओ सब्सक्राइबर्स की पेंशन बढ़ जाएगी।

[ad_2]