दिल्ली देहात से….

हरीश चौधरी के साथ….

FASTag के माध्यम से इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह में लगभग 46% की वृद्धि – FASTag के माध्यम से इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह में 46% आज, वर्ष 2022 में बढ़कर 50,855 करोड़ रुपये हुआ -दिल्ली देहात से

सांकेतिक फोटो

नई दिल्ली :

FASTag के ज़रिये पिछले कुछ सालों में टोल कलेक्शन में लगातार देखने को मिल रहा है। साल 2021 की तुलना में 2022 में 46 प्रतिशत कलेक्शन में गड़बड़ हुई है। साल 2021 में कलेक्शन जहां 34,778 करोड़ रुपए था जो साल 2022 में यह बढ़कर 2022 में 50,855 करोड़ पहुंच गया। बता दें, पिछले साल दिसंबर में नेशनल टोल प्लाजा पर औसत कमाई 134.44 करोड़ थी और 24 दिसंबर को 144.19 करोड़ थी जो एक दिन में सबसे ज्यादा कलेक्शन रही।

यह भी पढ़ें

इसी तरह FASTag ट्रांजिशन एक्शन में तेजी से देखने को मिल रहा है। साल 2021 से 2022 में 48% फिर से हुआ। 2021 में ट्रांजिशन एक्शन 219 करोड़ था जबकि 2022 में 324 करोड़ हो गया। अब तक 6.4 करोड़ फास्टैग जारी हो चुके हैं। साल 2021 में कुल 922 टोल प्लाजा पर FASTag लगे थे जबकि 2022 में बढ़कर 1,181 हो गए।

ये भी पढ़ें-

दिन का विशेष रुप से प्रदर्शित वीडियो

बुलियन की देरी में लूट, ईडी के अधिकारी जैसे अपराधियों ने घटना को अंजाम दिया