दिल्ली देहात से….

हरीश चौधरी के साथ….

दिल्ली में आज छा सकते हैं बादल, हिमाचल-कश्मीर में बर्फबारी से बढ़ी परेशानी, Ndtv Hindi, Ndtv India – आज दिल्ली में छाए रह सकते हैं क्लाउड, हिमाचल-कश्मीर में नौकरी से परेशानी -दिल्ली देहात से

आज दिल्ली के आकाश में छाए रहने और मध्यम स्तर का कोहरा रहने का रिपोर्ट है।

गणतंत्र दिवस पर राष्ट्रीय राजधानी के आकाश में बादल छाए रहते हैं और मध्यम स्तर का कोहरा लाइव प्रकाशित होता है। इस दौरान दृश्यता का स्तर 400 से 600 मीटर तक बना रह सकता है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा है कि न्यूनतम और अधिकतम तापमान संबंध: नौ और 19 डिग्री सेलियन दर्ज किए जा सकते हैं। विभाग ने बताया कि नए पश्चिमी विक्षोभ के कारण 29 जनवरी को चमकीली बारिश हो सकती है। दिल्ली में इस बार सर्दी के मौसम में अब तक बारिश नहीं हुई है। इसके लिए नवंबर और दिसंबर में सीज़न विभाग पश्चिमी मजबूत विक्षोभ की कमी को जिम्मेदार ठहराता है।

यह भी पढ़ें

राजस्थान में 28-29 को बारिश होगी

राजस्थान में 28-29 जनवरी को सीज़न विभाग के अनुसार राज्य के अधिकांश भाग में एक और पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होगा। इसके प्रभाव से 28 जनवरी को मंगलवार, कोटा, जोधपुर व जयपुर संभाग के नेटवर्क में कहीं-कहीं मेघ गर्जन के साथ हल्के स्तर की बारिश होने की प्रबल संभावना है। राजूपुर के खतरे राधेश्याम शर्मा ने बताया कि 26 जनवरी को राज्य के अधिकांश क्षणों में मौसम शुष्क रहेगा। हालांकि, कोटा व भरतपुर संभाग के कुछ हिस्सों में बादलों के रहने की संभावना है। पूर्वी और उत्तरी भागों में प्रातःकाल कहीं-कहीं घना कोहरा भी दर्ज किया जा सकता है।

हिमाचल में 265 सड़कें बंद

हिमाचल प्रदेश के लाहौल और स्पीति, चंबा, किन्नौर, संवादी और कुल्लु जाल में ताजा हिमपात के कारण 265 सड़कें बंद हो गईं, वहीं राज्य के कई अन्य हिस्सों में बुधवार को भारी बारिश हुई। मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, राज्य में न्यूनतम तापमान में तीन से पांच डिग्री की खराबी हुई है। केलांग प्रदेश में सबसे ठंडा स्थान रहा, जहां रात में न्यूनतम तापमान शून्य से 4.7 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। कश्मीर में अधिकतर जगहों पर दृश्यों से दृश्यता घटक 500 मीटर रह गए, जिससे घाटी में बुधवार को विमान सेवा प्रभावित हुई। कश्मीर के अधिकतर स्थानों पर रोशनी से मध्यम प्रविष्टि की गई, जबकि ऊंचाई वाले में भारी प्रविष्टि हुई। मौसम विज्ञान विभाग ने दिन बढ़ने पर बारिश की तीव्रता कम होने का अनुमान लगाया है। अधिकारियों ने बताया कि श्रीनगर हवाई अड्डे पर सभी सीमों में विलंब हुआ। हालांकि हवाई अड्डे पर अधिक बर्फ एकत्रित नहीं हुआ है, लेकिन दृश्यता के 500 मीटर की दूरी पर उड़ान संचालन प्रभावित हुआ। उन्होंने बताया कि दृश्यता के कम से कम 1000 मीटर होने पर अस्थायी रूप से संचालन बहाल किया जाएगा। मौसम विज्ञान विभाग ने बृहस्पतिवार को कुछ निर्देशांक में बादल छाए रहने के साथ ही रोशनी अनुमान या बारिश होने का अनुमान लगाया है। स्थानीय मौसम विज्ञान विभाग कार्यालय ने 30 जनवरी तक इलाके में बारिश की संभावना जताई है।

उत्तराखंड में 29 को मूसलाधार बारिश

विभाग के मुताबिक, शुक्रवार रात से एक और पश्चिमी विक्षोभ क्षेत्र को प्रभावित किया जाएगा। एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ उत्तर पश्चिम भारत को 28 से प्रभावित करने की अनुमान है। यह पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में रोशनी से लेकर मध्यम और मूसलाधार वर्षा या बजने का कारण बनता है। 28 और 29 जनवरी को उत्तर-पश्चिम भारत के मैदानी क्षेत्र में रोशनी से लेकर मध्यम या फिर छिटपुट वर्षा होगी। पश्चिमी हिमालय क्षेत्र में अलग-अलग जगहों पर भारी बारिश या अटकी और छिटपुट ओलावृष्टि हो सकती है। 29 जनवरी 2023 को उत्तराखंड में मूसलाधार बारिश की संभावना है।

यह भी पढ़ें-

“भारत ने कोई जमीन नहीं खोई…” : सूचना में पेट्रोलिंग प्वाइंट कम होने की रिपोर्ट को रक्षा मंत्रालय ने खारिज कर दिया

पद्म पुरस्कार का ऐलान, घबराए सिंह यादव और डॉ. दिलीप महालनाबीस सहित 6 को पद्म विभूषण

दिन का विशेष रुप से प्रदर्शित वीडियो

पहले ही दिन छा गए ‘पठान’, शाहरुख खान ने मचाया धमाल