दिल्ली देहात से….

हरीश चौधरी के साथ….

आरआरआर के साथ-साथ ऑल दैट ब्रीथ्स ने भी ऑस्कर में सर्वश्रेष्ठ वृत्तचित्र फीचर के लिए नामांकित भारत का नाम रोशन किया -दिल्ली देहात से

शॉनक सेन की ‘ऑल दैट ब्रीड्स’ ऑस्कर में ‘बेस्ट डॉक्यूमेंट्री फीचर’ के लिए नामित की गई है

नई दिल्ली:

(भाषा): जीवन परिवर्तन से संबंधित भारतीय दस्तावेज़ “ऑल दैट ब्रीड्स” ने मंगलवार को अकादमी की दृश्यावली के 95वें संस्करण में अंतिम नामांकन सूची में रखा। वहीं तमिल दस्तावेज़ “द एलिफेंट व्हिस्परर्स” ने दस्तावेज़ लघु विषय श्रेणी में नामांकन प्राप्त किया। शौनक सेन के निर्देशन वाले दस्तावेज़ “ऑल दैट ब्रीड्स” को ‘बेस्ट डॉक्यूमेंट्री फ़ीचर’ श्रेणी के लिए “ऑल द ब्यूटी एंड द ब्लडशेड”, “फायर ऑफ़ लव”, “ए हाउस मेड ऑफ़ स्प्लिंटर्स” और “नवलनी” के साथ नामित किया गया गया है। दिल्ली में बना दस्तावेज़ दो भाइयों, मोहम्मद सऊद और नदीम शहजाद पर स्थित है, जो घायल पक्षियों, विशेष रूप से काली चीलों को बचाने और उनके उपचार के लिए अपना जीवन समर्पित करते हैं।

यह भी पढ़ें

“ऑल दैट ब्रीड्स” को बाफ्टा अवार्ड के लिए भी नामित किया गया है। इसने पहली बार सनडांस फिल्म फेस्टिवल में ‘वर्ल्ड सिनेमा ग्रैंड ज्यूरी पुरस्कार: डॉक्यूमेंट्री’ जीता था। इसके अलावा इसने कान फिल्म फेस्टिवल 2022 में बेस्ट डॉक्यूमेंट्री के लिए गोल्डन आई पुरस्कार जीता था। तमिल डॉक्यूमेंट्री “द एलिफेंट व्हिस्परर्स” ने भी मंगलवार को 95वें अकादमी के डॉक्यूमेंट्री लघु विषय श्रेणी में नामांकन प्राप्त किया।

कार्तिकी गोंसाल्विस द्वारा इस डॉक्यूमेंट्री को चार अन्य फिल्मों में निर्देशित किया गया है – “हॉलआउट”, “हाउ डू यू मेजरमेंट ए ईयर?”, “द मार्था मिशेल इफैक्ट्स” और “स्ट्रेंजर एट द गेट” को इस श्रेणी में नामित किया गया है। “द एलिफेंट व्हिस्परर्स” दो प्रत्यक्त हाथियों और उनकी देखभाल करने वालों के बीच एक अटकल बंधन को प्रकट करता है। इसका निर्माण सिख्या एंटरटेनमेंट के गुनीत मोंगा और अचिन जैन ने किया है। प्रतिष्ठित 95वें अकादमी पुरस्कार के लिए 23 प्रत्यक्ष के लिए अंतिम नामांकन की घोषणा हॉलीवुड अभिनेता रिज अहमद और एलिसन विलियम्स ने यहां की। ऑस्कर 12 मार्च को होगा।

(इस खबर को एंडीटीवी टीम ने नाराज नहीं किया है। यह सिंडीकेट से सीधे प्रकाशित किया गया है।)

दिन का विशेष रुप से प्रदर्शित वीडियो

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा – दिग्विजय सिंह के बयान से सहमत नहीं हूं