दिल्ली देहात से….

हरीश चौधरी के साथ….

पेशाब कांड के बाद एयर इंडिया ने पेशाब कांड के बाद शराब नीति में बदलाव किया, कहा- जब तक क्रू-मेंबर्स… -दिल्ली देहात से


टाटा समूह के स्वामित्व वाली विमानन कंपनी (एयर इंडिया) पर नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने पिछले कुछ दिनों में 2 अंतरराष्ट्रीय उड़ानों में यात्रियों के अनावश्यक व्यवहार के लिए गलती पर जुर्माना लगाया है। वैसे, वैधानिक नीति में नाम का परिवर्तन का पता नहीं लगाया जा सका।

सुरक्षित नीति के अनुसार, यात्रियों के चालक दल के सदस्यों द्वारा परोसे जाने तक शराब पीने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए और चालक दल के सदस्यों को उन यात्रियों की पहचान करने के लिए चौकस रहना होगा जो अपनी शराब का सेवन कर रहे हैं। नीति के अनुसार, ”अल्कोहल युक्त पेय पदार्थों को उचित और सुरक्षित तरीके से विषाक्त पदार्थों के रूप में जाना जाना चाहिए। इसमें लिपिक को (आयु और) शराब परोसने से मना करना भी शामिल है।”

एअर इंडिया के एक प्रवक्ता ने एक बयान में कहा कि एयरलाइन ने अन्य विमानन प्राधिकरण द्वारा अपनाए जाने वाले तौर-तरीके अपनाने वाले, अमेरिकी राष्ट्रीय रेस्तरां संघ (नॉनए) के दिशा-निर्देशों के आधार पर उड़ान में शराब की मौजूदा पेशकश सहयोगी नीति की समीक्षा की है। .

बयानों में कहा गया है, ”ये काफी हद तक एयर इंडिया के मौजूदा तौर-तरीकों के अनुरूप हैं, हालांकि बेहतर दृश्यों के लिए कुछ समायोजन किए गए हैं। एन आर ए ट्रैफिक लाइट सिस्टम में ड्राइवर चालक के नशे के मामले में परिचित हैं और आपकी मदद करने में शामिल हैं।”

वहीं, एयर इंडिया की फ्लाइट में पेशाब कांड में DGCA ने एयरलाइन पर 30 लाख का जुर्माना लगाया है। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, डीजीसीए ने पायलट का लाइसेंस 3 महीने के लिए सस्पेंड कर दिया है। इस बीच शंकर मिश्रा के वकील ने कहा कि उनके मुवक्किल पर 4 महीने का बैन गलत है। इस मामले की जांच के लिए एयर इंडिया ने एक समिति बनाई थी, जिसने शंकर के इस विमान की उड़ान में 4 महीने के लिए प्रतिबंध लगा दिया था।

ये भी पढ़ें:-

विमान में बुजुर्ग महिला पर पेशाब करने की स्थिति पर एयर इंडिया ने चार माह की उड़ान प्रतिबंध लगाया है

विमान में दर्द करने का मामला: बड़ा के तौर पर कहा गया है कि इस घटना से उनके व्यक्तिगत दर्द हुए हैं

Air India की फ्लाइट में रेलिंग का मामला, मंगलवार को दर्ज हुए 2 क्रू मेंबर्स के बयान

(इस खबर को एंडीटीवी टीम ने नाराज नहीं किया है। यह सिंडीकेट से सीधे प्रकाशित किया गया है।)

दिन का विशेष रुप से प्रदर्शित वीडियो

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा – दिग्विजय सिंह के बयान से सहमत नहीं हूं