दिल्ली देहात से….

हरीश चौधरी के साथ….

गणतंत्र दिवस परेड में पंजाब की झांकी नहीं होने पर आप, अकाली दल ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना -दिल्ली देहात से

पंजाब में दबंग आम आदमी पार्टी (आप) और विरोधी शिरोमणि अकाली दल (शिअद) ने पंजाब की आधिपत्य को गणतंत्र दिवस परेड़ के लिए कथित तौर पर ‘खारिज’ पर सोमवार को केंद्र की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पर विज्ञापन साधा। पंजाब के वित्त मंत्री व ‘आप’ के वरिष्ठ नेता हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि पंजाब की विविधता को हमेशा गणतंत्र दिवस परेड में जगह मिलती थी, जिसमें वह राज्य की समृद्ध संस्कृति और गत वर्षों में हुए विकास को चित्रित करता था।

यह भी पढ़ें

उन्होंने कहा कि इस बार पंजाब अपनी एकेडी के जरिए देश की स्वतंत्रता संग्राम में पंजाबियों द्वारा दी गई कुबेरनी को चित्रित करने वाला था, ” लेकिन सेंटर ने उन्हें (पंजाब को) इस साल (गणतंत्र दिवस परेड में) रोक दिया।” चीमा यह टिप्पणी इस साल के गणतंत्र दिवस परेड में पंजाब की विविधता को शामिल नहीं किए जाने के सवालों पर की। उन्होंने आरोप लगाया, ”केंद्र सरकार पंजाब के साथ-साथ दिल्ली और पंजाब की आपमें दूसरे के साथ भेदभाव कर रही है।”

शिअद अध्यक्ष सुखबीर सिंह क्लाउड ने भी इस मामले को लेकर फोकस पर ध्याना. क्लाउड ने ट्वीट किया, ”यह जानकर स्‍तब्ध हूं कि सरकार ने 74वें गणतंत्र दिवस परेड के लिए पंजाब की पहुंच को खारिज कर दिया। इसकी अभिप्राय है कि हमें अपनी संस्कृति और स्वयंभू संग्राम में योगदान को चित्रित करने की अनुमति नहीं दी गई। भारत सरकार से फैसले पर लौटने का आह्वान करता हूं। मैं पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान से आशंका और इस मुद्दे को भारत सरकार के सबसे पहले उठाने की अपील करता हूं।”

वरिष्ठ शिअद नेता दलजीत सिंह चीमा ने कहा कि पंजाब की विभिन्न गणतंत्र दिवस परेड में शामिल नहीं करना पूरी तरह से अन्यापूर्ण है और इसकी समीक्षा की आवश्यकता है।

ये भी पढ़ें-

(इस खबर को एंडीटीवी टीम ने नाराज नहीं किया है। यह सिंडीकेट से सीधे प्रकाशित किया गया है।)

दिन का विशेष रुप से प्रदर्शित वीडियो

अब परमवीर चक्र जीव के नाम से जानेंगे अंडमान-निकोबार के 21 द्वीप